14 करोड़ से बनेगा बिजली स्टेशन राज्यमंत्री ललिता यादव ने रखी आधारशिला


छतरपुर। बड़ामलहरा ब्लाक के तहत बंधा तिगड्डा पर गोरा में आज प्रदेश की पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण तथा महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने 1396 लाख से बनने वाले 132/33 केव्ही विद्युत उपकेन्द्र के लिए भूमिपूजन किया। इस अवसर पर सड़वा में दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत डेढ़ करोड़ की लागत से बनने वाले 33/11केव्ही एमव्हीए विद्युत उपकेन्द्र की आधारशिला रखी। समारोह की अध्यक्षता क्षेत्रीय विधायक रेखा यादव ने की। इस मौके पर विधायक पुष्पेन्द्र नाथ पाठक, भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. रमेश असाटी, सुनील मिश्रा, छतरपुर जनपद अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह यादव, कलेक्टर रमेश भण्डारी, जिला पंचायत सीईओ हर्ष दीक्षित, बिजली कंपनी के एसई संजय निगम, ईई एसके गुप्ता भी मौजूद थे।
राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने बिजली स्टेशन की आधारशिला रखते हुए कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऐसी व्यवस्था की है कि किसानों को खेती के लिए 10 घंटे और घरों में 24 घंटे बिजली मिल रही है। इसके पहले बिजली की क्या हालत थी किसी से छिपी नहीं है। न घरों में रोशनी रहती थी न खेतों में सिंचाई हो पाती थी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गरीबों की समस्या को देखते हुए संबल योजना शुरू की है जिसके तहत करोड़ों रुपए के बिजली के बिल माफ किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि छतरपुर जिले में साढ़े 5 लाख लोगों ने संबल योजना के तहत रजिस्टे्रशन कराया है। बिजली बिल माफी का प्रमाण पत्र मिलने के बाद इन सभी लोगों को 200 रुपए महीने का बिल देना होगा। उन्होंने लोगों से पूछा कि क्या उन्होंने ऐसी सरकार देखी है जिसने जन्म से लेकर मृत्यु तक की व्यवस्था की हो। मुख्यमंत्री ने किसानों को गेहूं बेचने पर पिछले साल का 200 रुपए और इस साल का 265 रुपए बोनस दिया है। पहले जहां साढ़े 7 लाख हेक्टेयर कृषि भूमि में सिंचाई हो पाती थी वहीं अब यह बढक़र 40 लाख हेक्टेयर हो गई है। सरकार का लक्ष्य 80 लाख हेक्टेयर कृषि भूमि को सिंचित करने का है। मुख्यमंंत्री ने दिन-रात चैन की सांस नहीं ली और गरीबों, किसानों तथा महिलाओं के लिए सोचा। दुराचारियों को फांसी की सजा देने का कानून भी मप्र सरकार ने बनाया। उन्होंने ग्रामीणों से मप्र सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ लेने की अपील की। कार्यक्रम स्थल पर एलईडी स्क्रीन के माध्यम से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का रतलाम जिले के जाबरा से संबोधन का सीधा प्रसारण दिखाया गया। इस मौके पर ग्रामीणों को संबल योजना के तहत बिजली बिल माफी के प्रमाण पत्र भी वितरित किए गए।
132/33 के.व्ही. का उपकेंद्र स्थापित होने पर बड़ामलहरा, दरगुवां, गुलगंज, बाजना एवं भगवां के लगभग 32 गांवों के 19 हजार 500 उपभोक्ता लाभान्वित होंगे। विद्युत उपकेंद्र का निर्माण एशियन विकास बैंक की वित्तीय ऋण सहायता से होगा। उपकेंद्र का निर्माण कार्य विद्युत व्यवस्था को अधिक सुचारू बनाने एवं जिले के उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण विद्युत उपलब्ध कराने के
उद्देश्य से किया जा रहा है। वर्तमान में बड़ामलहरा क्षेत्र को 132/33 केव्ही उपकेंद्र बिजावर से 33 केव्ही लाइनों के माध्यम से बिजली सप्लाई की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*