युवाओं ने ठाना और सुलझने लगीं बिजली, पानी, स्वास्थ्य और सफाई की व्यवस्थाएं

महाराजपुर। यदि मन में ठान लिया जाये तो कोई भी लक्ष्य हासिल किया जा सकता है ये कहावत इन दिनों गढ़ीमलहरा के युवाओं ने सच कर दिखाई है। वे  अपने लक्ष्य की दिशा में आगे बढ़ रहे है जिसमे क्या बच्चे क्या बूढ़े यहाँ तक की नगर की महिलाएं भी इन युवाओं का साथ देती है। बिजली ,पानी सफाई ,सुरक्षा जैसी कोई समस्या हो तो जनता को आश्वासन के अलावा कुछ नही मिलता था। अगर साहब की मेहरबानी हुई तो समाधान हो जाता वरना जितनी बार भी जाओ तो साहब का बही घिसापिटा जवाब दिखवा लेंगे,अच्छा देखते है और लोगो को मजबूरन खाली हाथ लौटना पड़ता था, इसके अलावा कोई और विकल्प ही नही था। इस प्रकार का हाल केवल गढ़ीमलहरा का नही है लगभग लगभग हर जगह ऐसा ही हाल है और जनप्रतिधियों को जनता की सुध लेने की फुर्सत कहा बो तो केवल चुनाव के समय ही नजर आते है इसके बाद जनता के क्या हाल है क्या उनकी समस्या है इससे उनको कोई सरोकार नही।
खुद लिया समस्याओं के समाधान का निर्णय –
कई सालों से इसप्रकार के माहौल को बदलने के लिये और स्वयं के हक़ के लिये गढ़ीमलहरा के एक युवा सचिन चौरसिया ने एक अनोखी पहल की और अपने मित्रों को पूरे नगर में संयोजित किया कि अब सब अपनी आवाज को स्वयं मजबूत करने की मन में ठान ले और गढ़ीमलहरा युवा विकास मंच की नींव रखी। इस विकास मंच की जैसे ही नीव रखी गई तो बही हुआ जो होता है कि ये लडक़े क्या कर लेंगे यदि ऐसे समाधान मिलता तो ये नेता न करबा देते।लेकिन युवा विकास मंच ने किसी के विरोध को सुने बिना ये युवाओ की टोली निकल पड़ी अपने लक्ष्य की और गर्मियों का मौसम जला देने बाली धूप में तब नगर में हर जगह पानी के लिये  त्राहि त्राहि मची हुई थी तभी ये सभी वार्डवासियों के साथ सैकड़ो की संख्या में नगर पालिका अध्यक्ष के यहाँ पहुचे और शांति पूर्वक अपनी बात रखी बिना किसी नेता के इतनी बड़ी संख्या में भीड़ देखकर तुरंत ही पानी की सही व्यवस्था प्रत्येक वार्ड में करने की बात अध्यक्ष ने कही।
स्वच्छ नगर स्वस्थ नगर-
नगर को स्वच्छ और सुन्दर बनाने के लिए लोगो को जाग्रत करते हैं नगर पालिका द्वारा चिंहित स्थान पर ही कचरा डाले जिससे अपना नगर स्वच्छ रहे इसलिये हमे भी अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी, घर घर जाकर लोगो को जाग्रत करते हैं।
ईद पर की मिसाल कायम –
यूँ तो भारत एक धर्म निरपेक्ष राष्ट्र हैं लेकिन विकास मंच के इन युवाओं ने जाति धर्म से ऊपर उठ कर विकास मंच के सेकड़ो युवा नगर में स्थित मस्जिद पहुचे जहाँ ईद की नवाज पढ़ी जा रही थी सभी युवाओ ने  मुस्लिम भाइयो को गले लगाकर ईद की मुबारकवाद दी यह एक ऐसा काम किया जो नगर के इतिहास में पहली बार हुआ पूरे नगर ने युवाओं की इस पहल की सराहना की।
जंगल की आग की तरह फैल रही है चर्चा –
इस गढ़ीमलहरा युवा विकास मंच में  हर वर्ग के लोग शामिल है जिसका मुख्य लक्ष्य नगर विकास के लिये काम करना है गढ़ीमलहरा के अलावा इस विकास मंच के कार्य की सराहना आसपास के कई गाँवो में हो रही है। हर रविवार को मंच के सभी लोग एकत्रित होकर नगर के विकास और समस्याओं के बारे में बैठ कर चर्चा करते हैं और नगर का भ्रमण भी एक साथ करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*