मानव अधिकार आयोग ने छतरपुर आकर की जनसुनवाई मानवाधिकार हनन से जुड़े 45 मामलों में 21 सुलझे

छतरपुर। मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग द्वारा जिलास्तर पर की जा रही मानव अधिकार हनन से संबंधित मामलों की सुनवाई की श्रृंखला में बुधवार, 13 मार्च को जिला पंचायत कार्यालय, छतरपुर के सभाकक्ष में मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग की पूर्ण पीठ (फुल बैंच) की बैठक हुई। आयोग के अध्यक्ष न्यायमूर्ति नरेन्द्र कुमार जैन एवं आयोग के सदस्यद्वय मनोहर ममतानी एवं सरबजीत सिंह ने छतरपुर जिले के सभी लंबित प्रकरणों सहित नये प्रकरणों की सीधी सुनवाई की। इस अवसर पर कलेक्टर मोहित बुंदस, एएसपी जयराज कुबेर सहित संबंधित विभागों के अधिकारी, कर्मचारी और पक्षकार भी मौजूद थे।
सीधी जनसुनवाई के दौरान आयोग के अध्यक्ष न्यायमूर्ति नरेन्द्र कुमार जैन की मौजूदगी में छतरपुर जिले में मानवाधिकार हनन से जुड़े 30 पुराने लंबित प्रकरणों सहित 15 नये प्रकरण, कुल 45 प्रकरण रखे गये। इनमें से 21 प्रकरणों का निराकरण कर दिया गया।
सुनवाई में रखे गये पुराने 30 लंबित प्रकरणों में से 12 प्रकरणों का निराकरण कर दिया गया। शेष 18 प्रकरणों में प्रतिवेदन प्राप्त होने पर आयोग द्वारा संबंधितों को अग्रिम कार्यवाही हेतु आदेशित किया गया।
नये 15 प्रकरणों में से 9 प्रकरणों का निराकरण कर दिया गया, शेष 6 प्रकरणों में आयोग द्वारा संबंधितों से प्रतिवेदन मांगा गया है।
सुनवाई के दौरान राजस्व और पुलिस विभाग से संबंधित प्रकरणों की संख्या अधिक रही। सुनवाई में परिहार मार्केट, थाना सिविल लाईन, छतरपुर निवासी अमान कुशवाहा पुत्र करोड़े कुशवाहा अपनी जमीन पर किसी अन्य व्यक्ति का अवैध कब्जा हटवाने की शिकायत लेकर पहुंचे थे। आयोग द्वारा इनकी भी सुनवाई की गई। इसी तरह अन्य आवेदकों से प्राप्त सर्विस मैटर, छात्रवृत्ति, निराश्रित पेंशन आदि प्रकरणों के निराकरण के लिये भी आयोग की फुल बैंच ने सुनवाई की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*