भाजपा के राज में खुशहाल हुए किसान: भाजपा प्रदेशाध्यक्ष लेकिन किसानों की आत्महत्या संबंधी सवालों को टाल गए राकेश सिंह


छतरपुर। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने दावा किया है कि प्रदेश की भाजपा सरकार के कार्यकाल में किसान बेहद खुशहाल हुए हैं लेकिन किसानों की आत्महत्या और महिला उत्पीड़न जैसे गंभीर सवालों को उन्होंने टाल दिया। वे आज दोपहर होटल लॉ केपिटोल में पत्रकारों के सवालों का सामना कर रहे थे। प्रदेश सरकार की उपलब्धियों का बखान करते हुए उन्होने दावा किया कि भाजपा के कार्यकाल में किसान बेहद खुशहाल और स्वयं को गौरवशाली महसूस कर रहा है। उन्होने इस सवाल का कोई स्पष्ट जबाव नहीं दिया कि अगर किसान खुशहाल हैं तो आत्महत्या कर मौत को गले क्यों लगा रहे है। प्रदेश अध्यक्ष श्री सिंह ने जिला भाजपा में गुटबाजी से इंकार किया। उन्होने ने इस बात का भी कोई स्पष्ट जबाव नहीं दिया कि जिले में एक ही परिवार के तमाम सदस्यों को विभिन्न महत्वपूर्ण पदों से नवाजा गया है। इस मौके पर केन्द्रीय मंत्री वीरेन्द्र खटीक, प्रदेश की पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव भी मौजूद थीं।
महिला उत्पीडऩ की वारदातों में वृद्धि पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने दु:ख जताते हुए ऐसी घटनाओं को शर्मनाक बताया। उन्होंने दावा किया कि कृषि के क्षेत्र में न सिर्फ देश बल्कि पूरी दुनिया में मध्य प्रदेश अग्रणी है। यही वजह है कि लगातार प्रदेश सरकार को पांच साल से कृषि कर्मण अवार्ड मिल रहा है। एक सवाल के जबाव में श्री सिंह ने दावा किया कि आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा पूर्ण बहुमत के साथ मध्य प्रदेश में सरकार बनाएगी। उन्होने कहा कि कार्यकर्ता पार्टी की जान है और उन्ही की दम पर केन्द्र और राज्य में भाजपा की सरकार है और आगे भी बनेगी। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की बैठक लेकर उनसे विभिन्न महत्वपूर्ण मुद्दों पर विचार विमर्श किया और उनकी परेशानियों को सुनकर शीघ्र निराकरण के प्रयास करने का भरोसा दिया। उन्होने कहा कि केन बेतवा लिंक परियोजना, एनटीपीसी तथा छतरपुर में मेडिकल कालेज खोले जाने के लिए वे उचित मंचों पर ईमानदार कोशिश करेंगे ताकि इस इलाके के लोगों को इन तमाम योजनाओं का फायदा मिल सके। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि चुनाव मेें टिकट देने की भाजपा में एक निर्धारित प्रक्रिया है। जीतने वाले प्रत्याशियों को ही भाजपा टिकट देगी और

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*