धसान नदी का कुदेल घाट बुझा सकता है नगर की प्यास नगर पालिका परिषद् और अधिकारियों की खीचतान से नगर में गहराया जल संकट

नौगाँव। मुख्यमंत्री ने नगर को जल संकट से निपटने के लिए मुख्यमंत्री नलजल योजना दी थी। योजना से नगर की आवादी के हिसाब से आने वाले 20 वर्षों तक पानी की समस्या से निजात पाया जा सकता था। लेकिन परिषद् और आधिकारियों की उदासीनता के चलते नलजल योजना भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई। आज नगर पानी के भीषण संकट में गुजर रहा है। नगर के लोग 200 से लेकर 500 रूपये तक का टेंकर खरीद कर अपनी प्यास बुझाने के लिए मजबूर है। वही परिषद् और अधिकारी केवल अपनी आपसी खींचतान में फसें हुए है। नगर को हर रोज लगभग 1 लाख लीटर पानी चाहिए। नगर में हेडपम्प सहित कुछ निजी बोर भी सूखी हवा फेकने लगे है। लेकिन परिषद् ने पहले से जल संकट से निपटने की कोई कार्य योजना नहीं बनाई, केवल धसान नदी के सम्बेल एवं बारिश के इन्तजार में बैठी है। इन दिनों नगर पानी के संकट से जूझ रहा है, सबसे ज्यादा प्रभावित गायत्री कॉलोनी, पिपरी, पन्ना हाऊस, न्यू कॉलोनी, ताज कॉलोनी, बजरंग कॉलोनी, 24 नम्बर बंगला, गल्ला मंडी के पीछे, गफूर बस्ती, मेन बाजार सहित पिछड़ी हरिजन बस्तियों में भी टेंकरों के माध्यम से या तीन से चार दिन में कही-कही पर 30 से 40 मिनट तक नलों के द्वारा लोगों को पानी उपलब्ध कराया जा रहा है। नगर पालिका द्वारा मात्र दो दर्जन टेंकरों के माध्यम से 70 हजार की आबादी की प्यास बुझाने के सपने देख रही है। 
धसान का कुदेल घाट बुझा सकता है प्यास –
धसान नदी के नवनिर्मित स्टाप डेम के कुछ ही दूरी पर ग्राम सुनाटी के कुदेल घाट पर भरपूर मात्रा में पानी का भण्डारण है। अगर नगर पालिका कुदेल घाट से पम्पों के माध्यम से समबेल तक पानी लाये और समबेल के माध्यम से टंकी तक पानी उपलब्ध कराकर लोगों तक पानी पहुचाया जा सकता है। मजे की बात यह है की पिछले वर्षों में कुदेल घाट से नगर पालिका परिषद् में पम्पों के माध्यम से नगर में समबेल से टंकी के द्वारा जल सप्लाई की थी। लेकिन नगर पालिका की उदासीनता के चलते कुदेल घाट तक नगर पालिका नहीं पहुचीं। अगर नगर पालिका ने जल्द ही इस योजना पर अमल कर लिया तो आने वाले समय में नगर की जल संकट की समस्या से निपटा जा सकता है। लेकिन परिषद व अधिकारियों में तालमेल ना होने की वजह से परिषद् को जानकारी होने के बावजूद कुदेल घाट से पानी लेने की योजना नहीं बनाई।जबकि नगर पालिका अध्यक्ष अभिलाषा शिवहरे ने लिखित में अप्रेल माह में कुदेल घाट के अलावा आने वाले समय के लिए पानी की समस्या से निजात पाने के लिए कार्य योजना बनाने के लिए सीएमओ को दिया था। उस पर आज तक कोई कार्य योजना नहीं बनी।
इनका कहना है-
अप्रेल माह में ही सीएमओ को पत्र देकर इस काम के लिए अवगत कराया गया था, लेकिन सीएमओ ने आज तक इस बात पर अमल नहीं किया।
-अभिलाषा शिवहरे, नगर पालिका अध्यक्ष
कुदेल घाट पर पानी है ऐसी जानकारी लगी है, आप संसाधन जुटा दे हम जल्द पानी की व्यवस्था कर देगे।
-पवन कुमार शर्मा , मुख्य नगरपालिका अधिकारी
कल ही घाट को दिखवाकर काम चालू करवाते है, और जल्द पानी लाने की व्यवस्था की जाएगी।
-आलोक जायसवाल , उपयंत्री नगर पालिका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*