जनसंख्या वृद्धि रोकने लोगों को जागरुक करें: राज्यमंत्री


छतरपुर। प्रदेश की पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण तथा महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने कहा है कि मप्र की जनसंख्या वृद्धि दर 2.8 प्रतिशत है जबकि छतरपुर जिले की दर 3.8 प्रतिशत है। इसलिए जनसंख्या वृद्धि रोकने के लिए लोगों को जागरुक करने की जरूरत है। वे आज होटल लॉ कैपिटल में स्वास्थ्य विभाग द्वारा जनसंख्या दिवस पर आयोजित सम्मेलन ‘एक सार्थक कल की शुरूआत’ को संबोधित कर रही थीं। इस मौके पर कलेक्टर रमेश भण्डारी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. व्हीएस बाजपेयी, सिविल सर्जन डॉ. एसके चौरसिया, साहित्यकार मालती श्रीवास्तव, डॉ. बहादुर सिंह परमार, डॉ. कुसुम कश्यप, डॉ. एचपी अग्रवाल, डॉ. सुरेश बौद्ध, डीपीएम राजेन्द्र खरे, आईईसी सलाहकार दीप्ति जैन सहित ईशानगर एवं नौगांव की आशा, आशा सहयोगी, एएनएम, एमपीडब्ल्यू भी मौजूद थे।
सम्मेलन को संबोधित करते हुए राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने कहा कि छतरपुर जिले की जनसंख्या वृद्धि दर प्रदेश से बहुत ज्यादा होने के कारण जिले में जागरुकता की ज्यादा जरूरत है। हमारे संसाधन सीमित हैं, ऐसे में जनसंख्या बढ़ेगी तो क्या होगा? उन्होंने कहा कि गांव में जागरुकता की कमी के कारण बेटे की चाह में 4-5 बच्चे पैदा हो जाते हैं। जबकि लड़कियां लडक़ों से ज्यादा मां-बाप का ध्यान रखती हैं। उन्होंने कहा कि छतरपुर जिला लिंगानुपात में काफी पीछे है। यानि जिले में बेटियों की कमी है। जबकि प्रदेश सरकार ने लाड़ली लक्ष्मी सहित बेटियों के कल्याण के लिए कई योजनाएं चलाई हैं। इतना ही नहीं नगरीय निकाय और पंचायत में 50 प्रतिशत, शिक्षा विभाग में भी 50 प्रतिशत आरक्षण महिलाओं को दिया है। उन्होंने कहा कि जनसंख्या रोकने की दिशा में काफी काम हो रहा है लेकिन फिर भी और काम करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*