कबीर के संदेशों को जन-जन तक पहुंचायें-कबीरपंथी ईशानगर में धूमधाम से मनी संत कबीर की जयंती

छतरपुर। सर्व कोरी, कोली महासभा के तत्वाधान में संत कबीर की जयंती समारोह का आयोजन ईशानगर में धूमधाम से किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में हथकरघा एवं हस्तकला बोर्ड के अध्यक्ष एवं केबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त नारायण कबीरपंथी शामिल हुये एवं कार्यक्रम की अध्यक्षयता संतश्री गौरीदास साहब ने की। मंचीय कार्यक्रम के पूर्व ईशानगर में भव्य शोभा यात्रा बैण्ड बाजों के साथ निकाली गई। जिसमें भारी संख्या में महिलाओं ने अपने सिर पर कलश रखकर ईशानगर का भ्रमण किया।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए हथकरघा एवं हस्तकला बोर्ड के अध्यक्ष नारायण कबीरपंथी ने कहा कि संत कबीर के संदेशों को जन-जन तक पहुंचाये जाने की आवश्यकता है। क्योंकि कबीर ने सभी जात-पात एवं धर्मों में एक समान मानकर सभी के हित में कार्य करते हुए समाजहित एवं देशहित के संदेश जन-जन तक पहुंचायें थे। हमें उन्हीं के बताये मार्ग पर चलकर अपना एवं अपनी समाज का विकास करना है। जिस प्रकार से प्रधानमंत्री ने सबका साथ, सबका विकास का नारा देकर विकास किया है और जिस प्रकार मगहर पहुंचकर विकास की गंगा बहा दी हम समाज की ओर से श्री मोदी का धन्यवाद ज्ञापित करते हैं।
विशिष्ट अतिथि देवेन्द्र अनुरागी ने कहा कि नरेन्द्र मोदी ऐसे पहले प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने कबीर समाधि स्थल पर पहुंचकर उन्हें सम्मान देकर मगहर के विकास के द्वार खोले जिससे समाज में बहुत ही खुशी व्याप्त है। समारोह को अन्य विशिष्ट अतिथि महेन्द्र गुप्ता सरपंच प्रतिनिधि, हीरा कोरी पार्षद, एनआर.अनुरागी, बीडी कोरी, लखनलाल ठेकेदार, कबीर आश्रम के अध्यक्ष दुर्गा अनुरागी, एलडी कोरी, कैलाश कोरी, राकेश कोरी मंचासीन रहे। मंचीय कार्यक्रम की शुरूवात संत कबीर के चित्र पर माल्यार्पण कर की गई। स्वागत भाषण मोहन कोरी ने दिया।
समारोह में आयोजन समिति के अध्यक्ष मोहनलाल कोरी, उपाध्यक्ष श्यामलाल कोरी, दशरथ कोरी, कोषाध्यक्ष घनश्याम खरे, सरंक्षक डॉ.जीतेन्द्र मोहन वर्मा, व्यवस्थापक अशोक कोरी, घनश्याम कोरी, सचिव भवानीदीन कोरी, महामंत्री राजेश कोरी, पूरन कोरी, राजेश खन्ना, मंत्री कालीचरण, राहुल, विशाल, रवि, सुनील, महेश, लक्ष्मन, बृजकिशोर, श्यामलाल, सुरेश, मनोज, खुबचन्द्र सहित भारी संख्या में सामाजिक बन्धु उपस्थित रहे।कार्यक्रम का संचालन गनु मास्टर ने किया। आभार प्रदर्शन एलडी कोरी ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*