अघोषित कटौती से टीबी अस्पताल के मरीजों का बुराहाल

नौगाँव | नगर के ऐतिहासिक टीबी अस्पताल में भर्ती मरीज अस्पताल में मूलभूत सुविधाओं के अभाव में झुलस रहे है। बुधवार को दोपहर करीब 12 बजे अचानक नगर की बिजली गुल हो गई और करीब 2 घंटे बाद आई। बिजली गुल हो जाने से जहां एक ओर आमजन इस भीषण गर्मी में परेशानी का सामना करते रहे वही टीबी अस्पताल में मरीजों के लिए जनरेटर की सुविधा ना होने से मरीज दो घंटे तक गर्मी में तड़पते रहे। कोई मरीज बेड के पास तौलिया से हवा करते दिखा तो कोई बेड पर लेट कर अपने आपको पंखा झल रहा था। अस्पताल में भर्ती मरीज विकाश अहिरवार, किशन अहिरवार, मिंटू अहिरवार, बदलू पाल, कमलेश कुमारी ने बताया की जबसे लाईट गयी है तब से हम लोगों का गर्मी में बुरा हाल है। अस्पताल में एसी कोई सुविधा भी नहीं है जिससे लाईट जाने से मरीजों को राहत मिल सके। जब कभी रात में लाईट जाती है तब हम लोगों को गर्मी के अलावा मच्छर, कीडा-मकोडो का सामना करना पड़ता है। बिजली विभाग के ईई अमर श्रीवास्तव ने बताया की दोपहर को ट्रांसफार्मर बदलने के कारण लाईट की सप्लाई को बंद किया गया था।
इनका कहना है-
अस्पताल में केवल एक्सरे मशीन के लिए ही जनरेटर की सुविधा है। अस्पताल के लिए विद्युत विभाग से अलग से लाईन डलवाई गई है, जल्द ही वह चालू करवाई जाएगी।
-बीके मिश्रा, अधीक्षक क्षय चिकित्सालय नौगाँव